Diwali Kyun Manai Jati Hai | दिवाली क्यों मनाई जाती है ?

0

Dipawali Kyon Manaya Jata Hai | दीपावली क्यों मनाया जाता है ?

हेलो दोस्तों समरीन इंस्टिट्यूट में आपका बहुत-बहुत स्वागत है मैं हूँ आपके साथ अहमद आज़मी और आज हम आपको बताएँगे कि दीपावली क्यों मनाई जाती है और इसमें क्या होता है इसकी कम्पलीट जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के अंदर देने वाले हैं इसीलिए आर्टिकल को पूरा ज़रूर पढ़ें ताकि आपको सही तरीके से समझ में आ सके तो चलिए शुरू करते हैं ।

Diwali Kyon Manate Hain | दिवाली क्यों मनाते हैं ?

दीपावली: प्रकाश का त्योहार

भारतीय उपमहाद्वीप का एक सुंदर और रंगीन त्योहार है दीपावली, जिसे हम प्यार से दिवाली के नाम से भी जानते हैं । यह एक पुराना और महत्वपूर्ण हिन्दू त्योहार है जो हर साल अक्टूबर और नवम्बर के बीच मनाया जाता है । इस खास दिन को मनाने के पीछे बहुत सारे मान्यताएँ और कथाएँ जुड़ी हुई हैं, जो हमारे समाज में एक अद्वितीय स्थान रखती हैं ।

दीपावली का मुख्य मतलब होता है "दीपों की पंक्ति" । इसे प्रकाश के त्योहार के रूप में मनाने का कारण है । इस दिन लोग अपने घरों को दीपों और मोमबत्ती के सहारे प्रकाशित करते हैं । यह प्राकृतिक सौंदर्य और ताज़गी का प्रतीक होता है ।

दीपावली का अद्वितीय महत्व है क्योंकि इसे भगवान श्रीराम के अयोध्या लौटने के दिन के रूप में मनाया जाता है । भगवान राम ने लंका के दास रावण को परास्त किया और अयोध्या को सुख-शांति से वापस लाया था । लोगों ने इस मौके पर उनके आगमन को खुशी-खुशी मनाया था, जिसका परिणामस्वरूप यह त्योहार आज भी धूमधाम से मनाया जाता है ।

दीपावली के दौरान, लोग अपने परिवारों के साथ खास खानों की तैयारी करते हैं । इसे "मिठाईयों का त्योहार" भी कहा जाता है, क्योंकि मिठाईयों का सेवन इसे और भी खास बना देता है । विभिन्न प्रकार की लड्डू, गुलाब जामुन, और जलेबी दीपावली के खास व्यंजन होते हैं । लोग एक-दूसरे को गिफ्ट भेजकर खुश करते हैं और खास उपहार देते हैं ।

दीपावली एक सामाजिक मेल-जोल का अवसर भी प्रदान करता है । दोस्तों और परिवार के सदस्य एक-दूसरे के घरों पर जाकर दिवाली की खुशियों का हिस्सा बनते हैं । इस दिन, सड़कों पर अलग-अलग रंगीन दिए जलाए जाते हैं, और पटाखे फोड़े जाते हैं, जिससे सड़कों की ओर से भी एक खास सजावट दिखती है ।

दीपावली का मतलब है बुराई को हराना और अच्छाई की ओर बढ़ना । इस त्योहार में हमें आपसी समझदारी, प्यार, और समरसता की महत्वपूर्ण मूल्यों की याद दिलाई जाती है । यह हमारे जीवन में प्रकाश और समृद्धि का प्रतीक होता है और हमें आगामी साल में नई उम्मीदों के साथ आगे बढ़ने का संदेश देता है ।

इस त्योहार के माध्यम से हम सीखते हैं कि अच्छाई हमेशा बुराई को परास्त करती है और प्रकाश हमेशा अंधकार को हराता है । दीपावली के माध्यम से हम अपने जीवन में प्रकाश और खुशी को बढ़ावा देते हैं और अपने परिवार और समाज के साथ समरसता और एकता की ओर बढ़ते हैं । इसलिए, दीपावली हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और हमें इसे धूमधाम से मनाना चाहिए

अगर आपको आर्टिकल पसंद आए तो कृपया इस आर्टिकल को अपने सभी दोस्तों के साथ ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें ताकि उनको भी इसकी जानकारी प्राप्त हो सके अगर आपने अभी तक हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन नहीं किया है तो आपको हमारी वेबसाइट पर टेलीग्राम ग्रुप का ज्वाइन बटन देखने को मिलेगा आप उस पर क्लिक करके हमारे टेलीग्राम ग्रुप से ज्वाइन हो सकते हैं और हमसे डायरेक्टली कोई भी सवाल कर सकते हैं आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए बहुत-बहुत शुक्रिया ।

Post a Comment

0Comments

अगर आपको इस पोस्ट से जुडी कोई समस्या है तो हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं

Post a Comment (0)