Google AdSense Me Ads Limit Problem Ko Solve Kaise Karen | Ads Limit कैसे हटाएँ ?

1

How To Remove Ads Limit From AdSense | गूगल AdSense में Ads लिमिट कैसे हटाएँ ?

हेलो दोस्तों समरीन इंस्टिट्यूट में आपका बहुत-बहुत स्वागत है मैं हूँ आपके साथ अहमद आज़मी और आज हम आपको बताएँगे कि Google AdSense में Ads Limit प्रॉब्लम को सॉल्व कैसे करें ? इसकी कम्पलीट जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के अंदर देने वाले हैं इसलिए आर्टिकल को पूरा ज़रूर पढ़ें ताकि आपको सही तरीके से समझ में आ सके तो चलिए शुरू करते हैं ।

Google AdSense Me Ads Limit Remove Kaise Karen | AdSense Me Ads Limit कैसे हटाएँ ?

गूगल एडसेंस में जब एड्स लिमिट लग जाती है तब हमारी वेबसाइट पर गूगल की एड्स आना बन्द हो जाती है और हमारी कमाई भी बिल्कुल बन्द हो जाती है जब भी आपसे कोई भी व्यक्ति दुश्मनी निकालना चाहता है तो वो आपकी वेबसाइट को बार-बार ओपेन करके एड्स पर क्लिक करता है जोकि इनवैलिड क्लिक मानी जाती है जिसके लिए एड्स लिमिट लग जाती है कभी-कभी हम खुद ही जब वेबसाइट बनाते हैं और जैसे ही अप्रूवल मिलता है और पैसे कमाने के चक्कर में हम दूसरे-दूसरे लोगों का मोबाइल फोन लेकर अपनी वेबसाइट को ओपेन करते हैं और एड्स पर क्लिक करते हैं जिससे भी ये इनवैलिड एक्टिविटी माना जाता है इससे भी एड्स लिमिट लग जाती है ।

और जब भी हम सोशल मीडिया पर अपने फ्रेंड्स को लिंक शेयर करते हैं और बोलते हैं कि वेबसाइट को ओपेन करो तब भी वो इनवैलिड एक्टिविटी मानी जाती है अगर कोई आपकी एड्स पर क्लिक कर देता है तब भी वो इनवैलिड क्लिक मानी जाती है क्योंकि आपको ऑर्गेनिक ट्रैफिक नही जा रही है आप सोशल मीडिया के ज़रिए या फिर अपने फ्रेंड्स के थ्रू अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक भेज रहें हैं ये चीज़ स्टार्टिंग में करना बिल्कुल भी ठीक नहीं है इसको आप इग्नोर ज़रूर करें इन्ही की वजह से एड्स लिमिट लग जाती है जब आप पोस्ट एडिट करते हैं तब भी आप चेक करने के लिए बार-बार वेबसाइट को ओपेन करके देखते हैं आप ऐसा बिल्कुल भी न करें बल्कि आप एडिट करते समय सिर्फ प्री व्यू देखें अगर अपनी वेबसाइट को खुद बार-बार ओपेन करेंगे तो ये भी इनवैलिड एक्टिविटी मानी जायेगी क्योंकि गूगल एडसेंस इम्प्रैशन के भी पैसे देता है ।

अभी तक मैं आपको सिर्फ ये बताया कि एड्स लिमिट आती क्यों है अब हम जान लेते हैं एड्स लिमिट प्रॉब्लम को सॉल्व कैसे करेंगे सबसे पहले तो अपने गूगल एडसेंस के एकाउंट में जाकर उसका CTR आपको दिन में दो या तीन बार ज़रूर चेक करना है अगर आपका CTR कुछ ही समय मे बढ़ता जा रहा है तो ये एक खतरे की घंटी है और अपनी वेबसाइट को गूगल एनालिटिक्स में ज़रूर चेक करें गूगल एनालिटिक्स के अंदर बाउंस रेट में अगर 80 % से ज़्यादा जाता है तो वो इनवैलिड एक्टिविटी हो रही है ।

उसके बाद ड्यूरेशन भी ज़रूर चेक करें कि कौन सा बन्दा कितने टाइम तक वेबसाइट पर रुकता है ड्यूरेशन में अगर मिनट के अलावा सेकंड में दिख रहा है तो ये भी एक खतरे की घंटी है सबसे पहले तो आपको गूगल एडसेंस के अंदर से एड्स को रिमूव करना है और सोशल मीडिया पर लिंक शेयर करना बंद कर देना है अपनी वेबसाइट का ज़्यादातर ये कोशिश करें कि आपकी वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक आये यह सब करने के बाद आपकी एड्स लिमिट हट जाएगी 30 दिनों के अंदर में इस तरीके से आप एड्स लिमिट को हटा सकते हैं ।

अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगे तो प्लीज़ आप हमारी वेबसाइट को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करें , अगर आपको हमारी पोस्ट से सम्बंधित कोई भी समस्या हो तो आप हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं, समरीन इंस्टिट्यूट टीम आपकी सेवा में सदैव तत्पर है, समरीन इंस्टिट्यूट टीम आपको तहे दिल से मोबारकबाद ,पेश करती है आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए बहुत-बहुत शुक्रिया ।

Post a Comment

1Comments

अगर आपको इस पोस्ट से जुडी कोई समस्या है तो हमें कमेंट करके ज़रूर बताएं

Post a Comment